Search This Blog

Monday, 20 October 2014

daideeptya : इस दिवालीस्वार्थ ,लोभ और प्रलोभ के अँधेरे वासनाओ...

daideeptya : इस दिवाली
स्वार्थ ,लोभ और प्रलोभ के अँधेरे
वासनाओ...
: इस दिवाली स्वार्थ ,लोभ और प्रलोभ के अँधेरे वासनाओं के तिमिर मुझको हैं घेरे अंधकारों में ह्रदय भी कांपता है मौत की आहट को भी वह भांपत...