Search This Blog

Wednesday, 8 July 2015

हाँ वो रोया था बहुत ,
प्यार कम था या था ज्यादा ,
लौट कर आने का वादा ,
कर गया, यह बोल कर ,
दर्द के बाज़ार में ,
पल भर ठहरती हैं ये खुशियाँ ,
आंसुओं के मोल पर...