Search This Blog

Sunday, 31 July 2016

जिनको सूरज जाना था , सब डूब गये

सुलगते अंधेरों में घुटता है दम,
आँख जलती है रोशनी की खातिर,
जिनको सूरज जाना था , सब डूब गये
.... अनिल